इंदिरा गांधी पेंशन योजना लागू करें | राष्ट्रीय पेंशन प्रक्रिया | इंदिरा गांधी योजना फार्म | इंदिरा गांधी पेंशन योजना हिंदी में

इंदिरा गांधी पेंशन योजना केंद्र सरकार के राज्य के निवासी के रूप में पेश किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत बी परिवार के वृद्धजन ,विविध महिलाओ ,विकलांग (बीपीएल परिवार की बुजुर्ग, विधवा महिलाएं, विकलांग व्यक्ति आदि) आदि। आज हम, अपने इस लेख के माध्यम से इस इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 विस्तृत जानकारी के लिए आवेदन प्रक्रिया ,दस्तावेज़ ,पात्रता की पेशकश की जा रही है हमारे लेख को अंत तक।

इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021

इस योजना के अंतर्गत पेंशन योजना , पेंशन योजना ,विविध पेंशन योजना शामिल है । इंदिरा गांधी पेंशन योजना देश के सभी मामलों में सहायता प्रदान करें। इस योजना का लाभ देश के बी.पी.एल. इस योजना का लाभ देश के जो वृद्धजन ,विविधवा महिला ये ,विकलांग विशेष खिलाड़ी है इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 के लिए आवेदन करना । इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना के बारे में जानकारी होने के बाद वह योजना बना रहा होगा।

इंदिरा गांधी पेंशन योजना

इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 का संकल्प

जैसे कि भविष्य में भी यह कोई भी चीज नहीं है। अ इन सबके बीच इन्द्राभिव्यक्ति पेंशन योजना इस योजना के लिए इस तरह के रहने वाले रहने वाले जीवन यापन के पेंशन की पेशकश कर रहे हैं। इस इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 व्यवस्था के अनुसार, वृद्धजन और महिलाओ को वृद्धा बनाने के लिए। किस तरह से एक परिवर्जनशील है ।

इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 हाइलाइट्स

योजना का नाम

इंद्राभिव्यक्ति पेंशन योजना

इस प्रकार की तुलना

केंद्र सरकार

विभाग

समाज कल्याण विभाग

उद्देश्य

पेंशन चालान सहायता

लाभार्थी

देश के वृद्धजन ,विविध महिलाये ,विकलांग व्यक्ति

इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 के कार्यकाल का प्रकार

इंदिरा पेंशन पेंशन योजना

इस योजना का शुभारम्भ 9 नवंबर 2007 को केंद्र सरकार द्वारा प्रकाशित किया गया था। इस योजना के तहत देश के परिवार के 60 वर्ष या अधिक आयु के वयस्क जन पेंशन के रूप में भविष्य में मदद की पेशकश करेंगे। इस योजना के अनुसार वृद्धजनों की आयु 60 से 79 वर्ष के बीच में प्रतिमाह 500 फी की पेंशन पेंशन ऑफर (बुजुर्गों की आयु 60 से 79 वर्ष के बीच है, उन्हें पेंशन की राशि 500 ​​रुपये प्रति माह प्रदान की जाती है) सरकार। ) की आदर्श आयु 80 वर्ष से अधिक होती है।

इंदिरा गांधी विधवा पेंशन योजना

इस योजना के तहत राज्य सरकार ने इस योजना के लिए मदद की पेशकश की थी। गर्भवती होने की स्थिति में होने के कारण यह स्थिति खराब होने की स्थिति में होती है। भविष्य से संबंधित राज्य के लिए आवश्यक है । इस विधवा पेंशन योजना के अंतर्गत देश के जिन विधवा महिलाओ की आयु 40 वर्ष से अधिक और 59 वर्ष से कम है तो उन्हें सरकार द्वारा प्रतिमाह 300 रूपये की पेंशन वित्तीय सहायता के रूप महिला जीवन या बच से सक्षम है । इस योजना के लागू होने के बाद बच्चे की योजना बनाई जा सकती है।

इन्द्रिय स्थिति अव्यवसायिक पेंशन योजना

इस योजना के अनुसार, आयु 80 प्रतिशत से अधिक गरीबी के साथ 18 वर्ष की आयु के लिए योजना बना सकती है। जैसे कि जीवन से पहले इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विकलांगता पेंशन योजना परिवार के सदस्य के रूप में पैंशनल पेंशनर की तरह |

इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 की उपयुक्तता

  • इस योजना के आकार की स्थिति में परिवर्तन की स्थिति में परिवर्तन की स्थिति में परिवर्तन की आयु 60 वर्ष या अधिक होनी चाहिए।
  • शिक्षा पेंशन योजना केला विधवा की आयु 40 वर्ष से अधिक और 59 वर्ष से कम चाहिए ।
  • निर्धन पेंशन योजना के संबंध में 80 % या अधिक भिन्न हैं।
  • सभी आवेदनों को अवशोषित करने के लिए ।

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय पेंशन 2021 के दस्तावेज़ीकरण

  • फरियादी का आधार कार्ड
  • बी कार्ड राशन कार्ड
  • आयु प्रमाण पत्र
  • धारणा का सबूत
  • आई प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • आयु आकार फोटो

इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 में आवेदन कैसे करें?

देश के लाभार्थी इस इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 के उपकरण स्थापित करने के लिए आवेदन पत्र भरने के लिए । आवेदन करने के लिए अपने सभी दस्तावेज़ों को प्रदर्शित करने के द्वारा दिखावा करें । नगर निकाय / ग्राम पंचायतें संबंधित ULB / जिला पंचायतों को आवेदन अग्रेषित मनोनीत। संबंधित नगर निकाय / जनपद पंचायतों को स्वीकार करने / अस्वीकार करने का अधिकार।

महत्वपूर्ण लिंक



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *